Sanchar Kya Hai – संचार क्या होता है

Sanchar Kya Hai – संचार क्या होता है : “संचार” हिंदी शब्द है जिसका इंग्लिश में अर्थ “कम्युनिकेशन” होता है।

Sanchar Kya Hai - संचार क्या होता है

संचार दो या दो से अधिक व्यक्तियों, समूहों या संगठनों के बीच सूचना या संदेशों के आदान-प्रदान को संदर्भित करता है।

संचार वर्तमान में बोली जाने वाली , लिखी जाने वाली भाषा या अनुभूतियों के द्वारा हो सकता है

संचार के माध्यम मुख्यतः टेलीफोन कॉल, ईमेल, टेक्स्ट मैसेज या सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म होते हैं।

सकारात्मक संचार व्यक्तिगत और पेशे में अत्यंत आवश्यक होता है क्योंकि यह रिश्तों को बनाए रखने, विचारों और सूचनाओं को संवहन करने और लक्ष्यों को हासिल करने में मदद करता है।

संचार के उदाहरण –

  1. दो दोस्त दोपहर के भोजन के लिए फोन पर बात करते हैं।
  2. एक स्कूल में एक शिक्षक एक छात्र से एक सवाल करता है और छात्र उत्तर देता है।
  3. दो समूहों के बीच व्हाट्सएप या टेलीग्राम जैसे मैसेजिंग एप्लिकेशन के माध्यम से बातचीत होती है।
  4. एक अधिकारी एक लोगों की बैठक में उनके सामने बोलता है और अपनी रिपोर्ट पेश करता है।
  5. एक न्यूज़ एंकर अपने दर्शकों को टीवी चैनल के माध्यम से ताजा समाचार देता है।

संचार के माध्यम

संचार के लिए कई माध्यम होते हैं कुछ माध्यम संचार के निचे दिए गए –

  1. वाणिज्यिक संचार के माध्यम: वाणिज्यिक संचार में टेलीफोन, ईमेल, फैक्स, वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग, वेब कॉन्फ्रेंसिंग जैसे माध्यम शामिल होते हैं। इन माध्यमों के माध्यम से व्यक्तिगत और व्यवसायिक संदेशों को आसानी से भेजा जा सकता है
  2. सामाजिक संचार के माध्यम: सामाजिक संचार में फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, व्हाट्सएप जैसे माध्यम शामिल होते हैं। इन माध्यमों के माध्यम से लोग दूसरों से जुड़ सकते हैं, दूसरों के साथ संवाद कर सकते हैं और अपनी बातों को व्यक्त कर सकते हैं।
  3. लिखित संचार के माध्यम: लिखित संचार में न्यूज पेपर चिट्ठी, पत्र, नोट, मेमोरेंडम जैसे माध्यम शामिल होते हैं। इन माध्यमों के माध्यम से व्यक्तिगत और पेशेवर संदेश भेजे जा सकते हैं
See also Cricket Ka Hindi Name - क्रिकेट का हिन्दी

संचार के प्रकार

आधारभूत संचार:

आधारभूत संचार मुख्य रूप से भाषा, लिपि और संकेतों के माध्यम से होता है। इसमें भाषा के लिए अक्षर, शब्द, वाक्य और भाषा नियम शामिल होते हैं।

गैर-आधारभूत संचार:

गैर-आधारभूत संचार में व्यक्ति भाषा और संकेतों के साथ शरीर की भाषा और चेहरे की भावनाओं का उपयोग करता है।

इलेक्ट्रॉनिक संचार:

इलेक्ट्रॉनिक संचार में डिजिटल डेटा के माध्यम से संदेश भेजे जाते हैं। इसमें ईमेल, टेक्स्ट संदेश, वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग, इंटरनेट चैट जैसे माध्यम शामिल होते हैं।

अवधारणात्मक संचार:

अवधारणात्मक संचार में व्यक्ति शब्दों, भावनाओं और भाषा के माध्यम से विचारों को साझा करता है। यह विचारों और भावनाओं के माध्यम से अन्य व्यक्तियों तक पहुंच पाने का एक अच्छा तरीका होता है।

Leave a Comment